द्रौपदी मुर्मू की जीवनी परिचय – राजनितिक करियर , उम्र। Droupadi Murmu Biography

Droupadi Murmu Biography In Hindi, Age, Date Of Birth, Birth Place, Caste, Family, Husband , Carriar, Nationality and Education.

कौन हैं द्रौपदी मुर्मू (द्रौपदी मुर्मू जीवन परिचय)। द्रौपदी मुर्मू इन दिनों इतनी लोकप्रिय क्यों हैं? आजकल लोग इंटरनेट पर उनके बारे में ज्यादा सर्च क्यों कर रहे हैं? द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा राज्य में पैदा हुए आदिवासी समुदाय से हैं। हाल ही में, उन्हें भारत के राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) द्वारा चुना गया है। यही कारण है कि द्रौपदी मुर्मू इन दिनों इतनी लोकप्रिय हैं। आज के इस लेख में हम द्रौपदी मुर्मू की जीवनी के बारे में जानेंगे। जैसे द्रौपदी मुर्मू का जीवन कैसा था, उनकी शिक्षा और पारिवारिक जीवन आदि सभी तथ्यों के बारे में जानेंगे।

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय ( Droupadi Murmu Biography in Hindi )

द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को उड़ीसा के मयूरभंज जिले में एक आदिवासी समुदाय में हुआ था। द्रौपदी मुर्मू संथाल आदिवासी समुदाय से हैं। एनडीए द्वारा 24 जून 2022 को द्रौपदी मुर्मू को भारत का राष्ट्रपति मनोनीत किया गया था। राष्ट्रपति पद जीतने के बाद द्रौपदी मुर्मू देश की 15वीं राष्ट्रपति बनीं। इससे पहले भारत के 14वें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद थे।

Droupadi Murmu Biography in hindi

द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति पद ग्रहण कर लिया है और देश की पहली आदिवासी राष्ट्रपति महिला के रूप में अपना नाम लिखवा लिया है। यही वजह है कि द्रौपदी मुर्मू इन दिनों काफी चर्चा में हैं. यह पहली बार नहीं है जब कोई महिला देश के राष्ट्रपति पद पर बैठी है। 2007 में प्रतिभा देवी सिंह पाटिल भारत के राष्ट्रपति का पद संभाल रही थीं। जिन्हें हम देश की पहली महिला राष्ट्रपति के नाम से जानते हैं।

द्रौपदी मुर्मू के बारे में ( Droupadi Murmu Short Biography in Hindi )

पूरा नाम द्रौपदी मुर्मू
उपनाम द्रौपदी मुर्मू
जन्म तिथि 20 जून 1958
जन्म स्थान मयूरभंज , उड़ीसा , भारत
उम्र 64 वर्ष ( 2022 के अनुसार )
जाति अनुसूचित जनजाति
धर्म हिन्दू
शिक्षा रामा देवी महिला कॉलेज , भुवनेश्वर से की पढ़ी
स्थायी पता इसके बारे में कोई जानकारी नहीं
राष्ट्रीयता भारतीय
पेशा राजनीतिज्ञ
पिता का नाम विरांची नारायण टुड्डू
पति का नाम श्याम चरण मुर्मू
पार्टीभारतीय जनता पार्टी
वैवाहिक स्थिति विधवा
संतान बेटी – इतिश्री मुर्मू दो बेटो – का निधन हो गया
सम्पति 10 लाख
Short Biography of Droupadi Murmu

द्रौपदी मुर्मू का ऐतिहासिक जीवन ( Droupadi Murmu Life History)

अब तक हमने द्रौपदी मुर्मू के जीवन के छोटे-छोटे पहलुओं के बारे में जाना। अब बात करते हैं द्रौपदी मुर्मू के ऐतिहासिक जीवन की, आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाली द्रौपदी मुर्मू का जीवन भारत का राष्ट्रपति बनने तक कैसा था।

द्रौपदी मुर्मू का जन्म उड़ीसा राज्य के मयूरभंज जिले में एक संथाल आदिवासी परिवार में हुआ था। उनके पिता, वह दादा अपने समय में अपने क्षेत्र के प्रमुख थे। जब द्रौपदी मुर्मू थोड़ी समझने लगीं तो उनका दाखिला पास के प्राथमिक विद्यालय में करा दिया गया। प्राथमिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद द्रौपदी मुर्मू ने अपनी आगे की शिक्षा रमा देवी महिला महाविद्यालय, भुवनेश्वर से ग्रहण की। इसके बाद भी वह अपने बिजनेस के काम में लगी रहीं।

द्रौपदी मुर्मू का पारिवारिक जीवन काफी कष्टों और दुखों से गुजरा। उनके पति का नाम श्याम चरण मुर्मू था। उनके तीन बच्चे थे, दो बेटे और इतिश्री मुर्मू नाम की एक बेटी। उनके जीवन में कई घटनाएं हुईं। अपने पति और दोनों बेटों की मृत्यु के बाद द्रौपदी मुर्मू ने अपने घर में एक स्कूल खोला और बच्चों को पढ़ाना शुरू किया। उन्होंने एक शिक्षक के रूप में अपना करियर शुरू किया और धीरे-धीरे राजनीति की ओर बढ़े। 1997 में रायरंगपुर नगर पंचायत के पार्षद का चुनाव जीता। द्रौपदी मुर्मू ने राजनीति में कई कार्यभार और पद संभाले हैं और आज 2022 में भारत के राष्ट्रपति की कुर्सी पाकर उन्होंने बड़ी उपलब्धि हासिल की है।

द्रौपदी मुर्मू की शिक्षा ( Droupadi Murmu Biography Education )

जब द्रौपदी मुर्मू थोड़ी समझने लगीं तो उनके पिता वीरंची नारायण टुडू ने उनका दाखिला पास के एक स्कूल में करा दिया, जहां से उनकी प्राथमिक शिक्षा शुरू हुई। प्राथमिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद द्रौपदी मुर्मू भुवनेश्वर चली गईं। जहां उन्होंने रमा देवी महिला कॉलेज में दाखिला लिया और कॉलेज की पढ़ाई पूरी की। उसके बाद ओडिशा सरकार के रूप में बिजली विभाग में जूनियर असिस्टेंट की नौकरी करने लगे।

द्रौपदी मुर्मू का परिवार ( Droupadi Murmu Family Biography )

द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा राज्य के संथाल आदिवासी समुदाय से हैं। उनके पिता का नाम वीरांची नारायण टुड्डू था। उनके पिता, वह दादा, अपने समय में अपने समुदाय के प्रमुख थे। उनके पति का नाम श्याम चरण मुर्मू था। जिनका 2014 में निधन हो गया। द्रौपदी मुर्मू के बच्चों की बात करें तो उनके दो बेटे थे जो अब नहीं रहे और उनकी एक बेटी है जिसका नाम इतिश्री मुर्मू है।

द्रौपदी मुर्मू का राजनीतिक जीवन ( Droupadi Murmu Political life )

  1. 1997 में नगर पंचायत पार्षद का चुनाव जीतकर द्रौपदी मुर्मू ने राजनीति में प्रवेश किया।
  2. भाजपा अनुसूचित जनजाति के उपाध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला।
  3. भाजपा से रायरंगपुर सीट के दो टिकट लेकर दो बार विधायक बने। यह कार्यकाल 2000 से 2009 तक रहा।
  4. द्रौपदी मुर्मू भाजपा के आदिवासी मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनीं।
  5. द्रौपदी मुर्मू को ओडिशा सरकार के मत्स्य पालन और पशुपालन विभाग में स्वतंत्र प्रभार के साथ राज्य मंत्री नियुक्त किया गया है।
  6. 2015 में वह झारखंड राज्य की पहली महिला राज्यपाल बनीं। कार्यकाल 2014 से 2021 तक रहा।
  7. द्रौपदी मुर्मू ने 2022 में भारत की राष्ट्रपति बनकर अपने नाम को गौरवान्वित किया है। प्रतिभा देवी सिंह पाटिल भारत की पहली महिला राष्ट्रपति और भारत की दूसरी महिला राष्ट्रपति थीं। जिन्हें हम भारत की पहली महिला राष्ट्रपति के नाम से जानते हैं।

Q: द्रौपदी मुर्मू कौन है ?

Ans: भारत की 15 वी राष्ट्रपति

Q: द्रौपदी मुर्मू के पति का नाम ( Husband Name ) क्या है ?

Ans: श्याम चरण मुर्मू

Q: द्रौपदी मुर्मू का धर्म क्या है ?

Ans: द्रौपदी मुर्मू हिन्दू धर्म की है।

Q: द्रौपदी मुर्मू का जन्म स्थान कहा है ?

Ans: मयूरभंज , उड़ीसा , भारत

Q: द्रौपदी मुर्मू किस जाति की है ?

Ans: अनुसूचित जनजाति

आज हमने क्या जाना

दोस्तों आज हमने भारत की वर्तमान राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की जीवनी, द्रौपदी मुर्मू की जीवनी, परिवार, उनके राजनीतिक जीवन, द्रौपदी मुर्मू के माता-पिता का नाम, द्रौपदी मुर्मू के बच्चों आदि के बारे में जाना। आशा है कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। ऐसे और प्रसिद्ध लोगों की जीवनी पढ़ने के लिए प्राइम बायोग्राफी के टेलीग्राम चैनल से अवश्य जुड़ें धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here